Top On Page SEO Strategies for Bloggers To Increase Traffic

On Page SEO करना Organic traffic के लिए बहुत important है, On page SEO करने के बाद ही आपकी Website Pages, post को Google जल्द से जल्द Rank करता है।

मैंने इस Post में 10 ऐसे Best और Powerfull On Page SEO Stratgies mention करी है, जिन्हें आप अगर follow करे तो 100% आपको On Page SEO करने में success मिलेगी।

On page SEO techniques to increase website traffic

यह On Page SEO strategies Begginers के लिए खासकर बहुत ज्यादा ही important है, लेकिन जो पुराने Blogger है जिन्हें Traffic नही मिल रहे और On Page SEO के बारे में जानना है तो यह POST Read कर knowledge ले कर apply कर सकते हैं।

मैं on Page SEO के लिए आपको Backlicks बनाने के लिए नही कह रहा, बल्कि आपको अपनी ही website में ऐसे strategies करनी है जिसको करने से आपके Website के Content को अच्छे से समझकर Google को Rank करने   में Help मिलेगी, यह सभी website में work करेगी चाहे Blogger हो या wordpress. 

नीचे जितने भी on Page SEO के लिए Guide है, उनकी आपको आप अगर follow करें तो निष्चित रूप से आपके website content optimize होगी और Google के Bot content understanding से आपकी site के pages को Rank करेगी।


On Page SEO Strategies or Tips

NO. On Page SEO Strategies to Increase Traffic
1 Make Your URLs Neat, Short and User-Friendly
2 Include & Optimize Images
3 Anchor text Internal Linking That is Content Driven
4 Increase Your Content-Length (Word Count)
5 Make Your Website Fast
6 Optimize Robots.txt
7 Remove Thin Content
8 Mobile Optimization
9 Secure Your Website (Move to HTTPS)
10 Minimize Broken Links, Soft 404 & Broken Redirects

1. Make Your URLs Short and User-Friendly

आपके website, Article, और Pages के Link structure का Optimize होना अत्यंत आवश्यक है, यह करने से आपके site के user सही ढंग से post topic समझ सकेंगे साथ मे अगर आपके site post के URL लंबे होंगे तो google crwaler को index व crwal करने में दिक्कत हो सकती है , Google के crwaler Bot को छोटे सरल URL आसानी से समझ आ जाती है।

इसलिए आप URL Clean और short simple कर optimize करें ताकि Google के search Engine में भी crwaler के समझने से जल्दी Rankking में Help हो।

बहुत से Blogger website owner ये नही करते अगर आप यह करें तो अवश्य ही आपको Rankking कराने में कठिनाइयाँ नहीं आएंगी

बिना URL Optimization के "www.example.com/2018/06/seo/seo-checklist-for-2018-to-boost" जैसे दिखते हैं।

यह Long है और समझने में problem आएगी ऐसे URL Crwaler, index व crawl करने में time लेता है, और indexing में problem अति है।

यह Optimization के बाद better version हो जाता है जिसे हम SEO Friendly कहते हैं, वह है "www.Example.com/seo-checklist।"

आप इसे Wordpress में Permalink section में जाकर कर सकते हैं, blogger के permalink में date होने के बाद भी URL short clean होने पर crwaler rank करती है।


2. Include & Optimize Images

आप अपनी website के post, pages में images, chart, gif, videos, Add करके अच्छे से समझा सकते हैं, साथ मे यह आपके website के post को attractive व well look देती है, लेकिन ज्यादा images use न करें और किये गए images optimize करके करें आप image size maintain करके page loading में Help कर सकते हैं, इससे Google के ranking में भी help मिलेगी

Credit: superOffice

Above जो graph यह show कर रहा है कि अगर आप relevant photos use करते हो तो आपके site pages किस तरह से Rank करेगी।

images, photos अपने Article व pages में use करना, users experience के साथ साथ Search Engine Optimization के लिए भी important होती है।

WordPress में image compression plugin install करके image को optimize करके site की speed बढ़ेगी साथ मे rank होने में भी help मिलेगी

Blogger के लिए image Compression app download करके image को optimize करके upload कर सकते हैं|

यह Google image search से जो traffic आएगी वह आपके site traffic ko increase करने में help करेगा|


3. Anchor text Internal Linking That is Content Driven

यदि आपको Backlinks बनाने में दिक्कत हो रही है, या बनाने में time ज्यादा लग रहा है, तो आप अपने ही website के post में अपनी related words topic को internal link connect करके अपने post pages के अंदर ही अधिक से अधिक Backlinks create कर सकते हैं, यह amazing factor में से एक है, जिसे हम internal linking कहते हैं।

अगर आप post लिख रहे हैं और उन में related content आपके site में है, तो आप 4 से 5 कम से कम internal link जरूर करें, आप अपने जो relevant Pages, post, है उसमें तो आपको करनी ही चाहिए।

अगर आप SEO से related article लिख रहे हैं गो आपके लिखे हुए पुराने अच्छे contents को link करें फिर आपके द्वारा लिखे गए post को Google समझेगा की आपको SEO में interest है, और दूसरे search Engine में भी show करेगा कि आपके पास SEO से related contents available है।

अगर आप एक ही post को एक ही text anchor में कई बार link करते हो तो यह करना गलत हो सकता है।

आप internal linking के लिए 2,3 लंबे words का use करे अगर आप single word का बार बार use करते हैं तो आपको google punish कर सकता है।

आप अपने site post में Content-Operated internal link building का अवश्य ही use करें । आपके website के best relevant Post में अपनी other जो अच्छे related content हैं उसे link करें।

Google के crawaler Bot Intetnal link search engine का जो network है आपके website को और उसमें लिखे blog article content को सही ढंग से समझ कर crwal करेगा।

4. Increase Your Content-Length (Word Count)

Credit: serpIQ

Data, विशेष रूप से ऊपर का graph, आपको Google SERPs पर शीर्ष 10 Search results की औसत Content लंबाई दिखाता है। Data से पता चलता है कि इन Results के लिए average number 2400 - 2500 words के बीच थी। आप यहाँ exact नहीं होना चाहते, लेकिन मैं ऐसे post लिखना पसंद करता हूँ जो कम से कम 1700 - 2000 शब्द हों।

सुनिश्चित करें कि आप अपनी content पर elaborate करें कि उसे कहाँ होना है। यदि आप एक post लिखते हैं जिसमें 5000+ words हैं लेकिन readers को कोई value नहीं देता है, तो यह बस काम नहीं करता है।

यदि आप एक normal topic पर लिख रहे हैं, तो 500 words काम करेंगे। लेकिन tutorial, how to, guide आदि को एक संसाधन के रूप में लिखा जाना चाहिए जो users की problems को solve करता है। यदि आप बहुत सारी Content बना रहे हैं जो निम्न quality वाली है और एक ही topic को बार-बार cover करती है, तो आप Google के panda update से penalize हो सकते हैं।

Final factor आपकी content की Quality होगी। क्या आवश्यक है और बेकार के भावों से बचें।

5. Make Your Website Fast

Google ranking के factors में website के fast loading भी है, अगर आपका site अच्छे से speed में load होता है, तो Rankking में help होती है , यह users के experience को भी बढाता है, अगर आपका site loading slow है, फिर users bounce rate बढ़ेगी जिसके कारण rankking में नीचे जाएगी, इसलिये आपको website के post pages को loading time को decrease करनी की जरूरत है।


यदि आपके website की loading speed अच्छी है, तो traffic retaintion व conversion में बहूत ज्यादा help मिलती है, Google के rank करने वाली bot यह पूरी information लेता है कि आपके users website के साथ किस type interact करते हैं, अगर आपके site loading slow होगी तो users bounce rate बढ़ेगी जिससे गए users फिर आपके site में आना पसन्द नही करेंगे, इससे गलत असर पड़ेगा।

अगर आपको जानना है कि आपके site की speed कैसी है तो नीचे follow करें:

  • Google Pagespeed Insights पर जाएं और अपना URL add check करें। 
  • • और problem solve करें।


6. Optimize Robots.txt

आप आपने website में कई ऐसे parts हैं जिसे Robot.txt का use करके unnecessary parts को google indexing करने में रोकता है।

अगर आप ये नही करते हैं, तो आपके serach console में coverage issues वाली notice आएगा जिसे solve करने के लिए search, category, tags को disallow करनी है, जो index होकर duplicacy को बढ़ावा देती है, और SEO में effect डालता है।

यह use करने से google bot आपके सिर्फ important pages posts को ही index कर fast rank करेगा, नीचे मैने एक wordpress व एक blogger के लिए Robot. txt बताया है check it-

TheOnlinejobs robot txt


7. Remove Thin Content

Thin content उसे कहते है जो छोटी post होती है, लेकिन छोटी post google में rank नही होती, but users को छोटी छोटी post ही पसन्द आती है, लेकिन इसे google bot ignor करता है, उनके लिए thin content माइने नही रखती, और आपको इसमे benefites भी नही मिलेंगे क्योंकि search Engine में rank ही नही होगा।

अगर आपके website में 300 words के आसपास post पड़ी है यह जरूर ही users के लिये अच्छी साबित हो सकती है लेकिन google SERPs में show नही करेगा, क्योंकि less words के content को google value नही देती।

इसलिए आप अपने इस thin content को long content में convert कर सकते हैं या किसी दूसरे post में add कर सकते हैं।


8. Mobile Optimization

Google के report से यह सामने आया है कि 2015 से internet पर google के searches desktop की जगह mobile से searches में increase हुई है, यह 2015 से बढ़ते ही जा रही है , कम नही हो रही इसलिए आप अपनी site को responsive बनाइयें ताकि ये सभी Screen sizes में feet आए, इससे किसी प्रकार की content hide और content display में दिक्कत नही होगी, users की experience व ranking भी increase होगी।

Credit: Google Blog

आप अपने Blog site में ऐसी Responsive theme use करें जो desktop से लेकर tablet व mobile पर feet हो सके।

अगर आपके Blog site में responsive theme होंगी तो desktop tablet व mobile में feet तो आएगी ही साथ मे Quality और usablity को effect नही पड़ेगा size अपने आप set होते रहेगा।

अगर आप online tools की help से यह check करना चाहते हैं कि आपके site content mobile friendly है या नही तो आप Google’s mobile-friendly tester tool का use कर सकते हैं। और आप अपनी पूरी site के एक report के लिए दूसरी tool use कर सकते हैं जो अपको complete performance data देगी यह Varvy SEO tool  हैं।


9. Secure Your Website (Move to HTTPS)

अपने website के सभी data को secure करने के लिए अपनी site में अवश्य ही HTTPS features का use करना ही चाहिए अगर नही है तो आपका content user base पर effect पड़ सकता है।

यह secured socket layer जिसे SSL certificate से HTTP से HTTPS में Convert होकर secured way में आती है, यह data secure करती है, इसलिये attackers कुछ नही कर पाते अवश्य ही आपको SSL Certificate के साथ जाना चाहिए।


Google की मानें तो SSL use करके अपनी site के data को secure कर users के trust को बनाना ही web का future सही बनेगा।

यह SSL Google के लिए Official Ranking factors में से एक है।

लगभग सभी browsers में यह notice देता है कि यह secure site है या नहीं उसके लिए browsers url bar में icon show करता है जो Above photo में है , या not secure label शो करता है।

इस प्रकार users देखते हैं, अगर not secure notice show करता है गो users नही जाते ऐसे site में जाने से अपने आपको रोकते हैं, या कई browser तो block ही कर देता है, या suggest करता है unsafe है करके।

अगर आप की site HTTPS नही है और HTTP से HTTPS में जाना चाहते हैं, तो यह process एकदम simple है, ऐसे कई Hosting है जहाँ provide नही करती इसे अलग से purchase करना पड़ता है लेकिन आजकल हर company के hosting plans में Free SSL certificate देती है।

आपको एक अच्छी Hosting लेनी है, जो आपके data speed, और उसकी safety का certificate देता हो। आपको सस्ते plans और छोटी free companies पर trust नही करना चाहिए


10. Minimize Broken Links, Soft 404 & Broken Redirects

आप जब Blog create करके post लिखने लग जाते हैं, और जब आप इतने सारे post लिख लेते हैं कि कई ऐसे उन post में link मिल जाते हैं जो remove हो चुके होते हैं , और उस post के link को ओपन करने पर 404 ERROR आता है उसे broken link कहते हैं, अगर आप 100+ Articles लिख लेते हो तो links broken मिलने लगते हैं।

इसलिए आपको 404 ERROR नही चाहिए तो आप अपने site को online tools या broken link checker की help से weakly check करते रहना चाहिए क्योंकि इसके रहने से users पे effect पढ़ते हैं,

आप broken checker tools से check करके उसे remove या redirect कर सकते हैं अपने ही किसी दूसरे post url पे, अगर bunch में यह मिलता है, तो आपके SEO, server, पर effect पड़ेगा जिससे ranking decrease होगी traffic पे असर पड़ेगा।

Wordpress के लिए plugin मिल जाते हैं, जिसे use करके आप solve कर सकते हैं, अगर आपको पूरी site की scan करनी है तो Screaming Frog का use अवश्य ही कर सकते हैं।

Google search console के 404 Error information page पर जा कर आप page not found tab पर click करके Broken 404 Error links show करेगा उसे आप check कर remove कर सकते हैं।

यह एक अच्छी broken link solver है जो आपको help करेगा व 404 ERROR pages को उसके realted pages पर 301 redirect की हेल्प से transfer करेगा जो broken link show करने की बजाए redirect होकर ठीक हो जाएगा।



Thank You!